हर महीने मिलेंगे 9000 रु पेंशन,इस सरकारी योजना में करें निवेश

हर महीने मिलेंगे 9000 रु पेंशन, इस सरकारी योजना में करें निवेश

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना एक पेंशन योजना है जो भारत देश के उन सभी वरिष्ठ लोगों के लिए आरंभ की गई है जो 60 साल की अवस्था के हो चुके हैं उन्हें बुढ़ापा जीवन सुखमयी से यापन करने के लिए योजना के अंतर्गत निवेश करने पर बेहतर ब्याज राशि का फायदा प्राप्त होगा तो दोस्तों आज हम आपको अपने इस आर्टिकल चर्चा करेंगे

हर महीने मिलेंगे 9000 रु पेंशन,इस सरकारी योजना में करें निवेश
हर महीने मिलेंगे 9000 रु पेंशन,इस सरकारी योजना में करें निवेश

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना पात्रता – हर महीने मिलेंगे 9000 रु पेंशन.


पीएमवीवीवाई योजना के लिए कोई विशिष्ट पात्रता मानदंड नहीं है, सिवाय इसके कि ग्राहक एक वरिष्ठ नागरिक होना चाहिए, अर्थात (60 वर्ष और उससे अधिक)।
आवेदक भारतीय नागरिक होना चाहिए।
PMVVY योजना के लिए कोई अधिकतम प्रवेश आयु नहीं है।
आवेदक को दस वर्ष की पॉलिसी अवधि का लाभ उठाने के लिए तैयार होना चाहिए।


आवेदन प्रक्रिया



एलआईसी की आधिकारिक वेबसाइट पर लॉग इन करें https://licindia.in/
‘ऑनलाइन नीतियां खरीदें’ विकल्प पर क्लिक करें और पृष्ठ को नीचे स्क्रॉल करके ‘यहां क्लिक करें’ बटन पर क्लिक करें।
‘बाय पॉलिसी ऑनलाइन’ शीर्षक के तहत ‘प्रधानमंत्री वय वंदना योजना’ विकल्प पर क्लिक करें।
एक नया पेज खुलेगा। ‘ऑनलाइन खरीदने के लिए क्लिक करें’ विकल्प पर क्लिक करें।
संपर्क विवरण दर्ज करें और ‘आगे बढ़ें’ बटन पर क्लिक करें।
आवेदन पत्र भरें।
ऑनलाइन आवेदन जमा करें, अनुरोध के अनुसार दस्तावेज अपलोड करें और पंजीकरण पूरा करने के लिए ‘सबमिट’ बटन पर क्लिक करें।

हर महीने मिलेंगे 9000 रु पेंशन,इस सरकारी योजना में करें निवेश
हर महीने मिलेंगे 9000 रु पेंशन,इस सरकारी योजना में करें निवेश



आवश्यक दस्तावेज़ –
आधार कार्ड –
बैंक के खाते का विवरण –
आधार कार्ड-
पण कार्ड –
उम्र का सबूत –
पते का प्रमाण –
आय का प्रमाण –

पेंशन के विभिन्न तरीकों के तहत न्यूनतम और अधिकतम खरीद मूल्य निम्नानुसार होगा:

पेंशन का तरीका न्यूनतम खरीद मूल्य अधिकतम खरीद मूल्य
वार्षिक रु. 1,44,578/- रु. 14,45,783/-
अर्धवार्षिक रु. 1,47,601/- रु. 14,76,015/-
त्रैमासिक रु. 1,49,068/- रु. 14,90,683/-
मासिक रु. 1,50,000/- रु. 15,00,000/-

  • प्रभारित किया जाने वाला क्रय मूल्य निकटतम रुपये में पूर्णांकित किया जाएगा।

पेंशन भुगतान का तरीका:
पेंशन भुगतान के तरीके मासिक, त्रैमासिक, अर्धवार्षिक और वार्षिक हैं। पेंशन भुगतान एनईएफटी या आधार सक्षम भुगतान प्रणाली के माध्यम से होगा।पेंशन की पहली किस्त का भुगतान पेंशन भुगतान के तरीके के आधार पर खरीद की तारीख से 1 वर्ष, 6 माह, 3 माह या 1 माह के बाद क्रमशः वार्षिक, अर्धवार्षिक, त्रैमासिक या मासिक रूप से किया जाएगा।

फ्री लुक अवधि: यदि कोई पॉलिसीधारक पॉलिसी से संतुष्ट नहीं है, तो वह पॉलिसी प्राप्ति तिथि से 15 दिनों के भीतर एलआईसी को पॉलिसी वापस कर सकता है (यदि यह पॉलिसी ऑनलाइन खरीदी जाती है तो 30 दिन) आपत्तियों का कारण बताते हुए। फ्री लुक अवधि के भीतर रिफंड की गई राशि पॉलिसीधारक द्वारा स्टैंप ड्यूटी और भुगतान किए गए पेंशन शुल्क, यदि कोई हो, को घटाने के बाद जमा किया गया खरीद मूल्य है।

प्रधानमंत्री-वय-वंदना-योजना-
प्रधानमंत्री-वय-वंदना-योजना-1

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना फ़ायदे


प्रतिफल दर
PMVVY योजना ग्राहकों को 10 वर्षों के लिए 7% से 9% की दर से सुनिश्चित रिटर्न प्रदान करती है। (सरकार वापसी की दर तय करती है और संशोधित करती है)

पेंशन राशि
न्यूनतम पेंशन
रु. 1,000/- प्रति माह
रु. 3,000/- प्रति तिमाही
रु. 6,000/- प्रति छमाही
रु.12,000/- प्रति वर्ष

अधिकतम पेंशन
रु. 10,000/-प्रति माह
रु. 30,000/-प्रति तिमाही
रु. 60,000/- प्रति छमाही
रु. 1,20,000/- प्रति वर्ष

परिपक्वता लाभ
10 साल की पॉलिसी अवधि पूरी होने के बाद पूरी मूल राशि (अंतिम पेंशन और खरीद मूल्य सहित) का भुगतान किया जाएगा।
पेंशन भुगतान: 10 साल की पॉलिसी अवधि के दौरान चुनी गई आवृत्ति (मासिक, त्रैमासिक, अर्ध-वार्षिक या वार्षिक) के अनुसार प्रत्येक अवधि के अंत में पेंशन देय है।

मृत्यु का लाभ
10 वर्ष की अवधि के दौरान किसी भी समय पेंशनभोगी की मृत्यु होने पर कानूनी उत्तराधिकारियों/नामितों को खरीद मूल्य वापस कर दिया जाएगा।

आत्महत्या: आत्महत्या की गिनती पर कोई बहिष्करण नहीं होगा और पूर्ण खरीद मूल्य देय होगा।

https://hinditech.tech/2023/05/11/kya-bina-paise-lagaye-ipl-se-paise-kma-sakte-hai/

ऋण लाभ
आपात स्थितियों को कवर करने के लिए तीन साल के बाद खरीद मूल्य का 75% तक का ऋण लिया जा सकता है। हालांकि, सरकार द्वारा आवधिक अंतराल पर निर्धारित ऋण राशि के लिए ब्याज की दर ली जाएगी और पॉलिसी के तहत देय पेंशन राशि से ऋण ब्याज वसूल किया जाएगा।

समर्पण मूल्य
यह योजना असाधारण परिस्थितियों में पॉलिसी की अवधि के दौरान समय से पहले निकासी की अनुमति देती है जैसे कि जब पेंशनभोगी को स्वयं या पति या पत्नी की किसी भी गंभीर / टर्मिनल बीमारी के इलाज के लिए धन की आवश्यकता होती है। ऐसे मामलों में पेंशनभोगी को क्रय मूल्य का 98% सरेंडर मूल्य देय होगा।

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना

क्या पॉलिसी बैंक से लाई जा सकती है?

पॉलिसी केवल LIC से ऑनलाइन या ऑफलाइन (एलआईसी शाखाओं) से खरीदी जा सकती है।

क्या पीएमवीवीवाई योजना कर योग्य है?

हां, रिटर्न कर योग्य हैं। 
हालांकि, इस योजना को वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) से छूट प्राप्त है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *